जन गण मन की धुन तैयार करने वाले रामसिंह का भी जन्म दिन है 15 अगस्त


रामसिंहआजादी के जश्न के साथ-साथ जन-गण मन धुन के रचियता कैप्टन राम सिंह ठाकुर के जन्मदिन को भी 15 अगस्त को धूमधाम से मनाया जा रहा है। उनके जन्मदिवस पर कौमी धुनें व संगीत को बजाने के अलावा श्रद्धांजलि स्वरूप फुटबाल प्रतियोगिता भी आयोजित करवाई जा रही है।

संगीत व कौमी धुनों से आजादी का अलख जगाकर अंग्रेजों को खदेड़ने वाले आजाद हिंद फौज के सिपाही व प्रख्यात संगीतकार राम सिंह ठाकुर का जन्म खनियारा में दिलीप सिंह ठाकुर के घर में एक फौजी परिवार में 15 अगस्त 1914 को हुआ। उनके नाना नत्थू राम ठाकुर से उन्हें शास्त्रीय संगीत सीखने की प्रेरणा मिली।
पढना जारी रखे

Advertisements

आपका स्वागत है हिंदी की अनोखी दुनिया “हिंदी पटल” में…


Hindi_Patal

निज भाषा उन्नति अहै, सब उन्नति को मूल, बिन निज भाषा-ज्ञान के, मिटत न हिय को सूल।
अंग्रेजी पढ़ि के जदपि, सब गुन होत प्रवीन, पै निज भाषा-ज्ञान बिन, रहत हीन के हीन।-भारतेन्दु हरिश्चन्द्र

हमने इक शाम चराग़ों से सजा रक्खी है, शर्त लोगों ने हवाओं से लगा रक्खी है.

हिन्दी पटल का उद्देश्य – हिन्दी में विविध सामग्री प्रस्तुत करने का प्रयास!

पढना जारी रखे