भारत – दस सवाल


भारत ने महाशक्ति का दर्जा पाने के लिए क़दम तो बढ़ा दिए हैं, लेकिन इस राह में बड़ी-बड़ी खाइयां हैं। इन खाइयों को पाटकर ही हम कोई दावा कर सकते हैं। खरबपति अमीरों और अरबपति नेताओं के बरअक्स देश में 84 करोड़ ग़रीब हैं। एक तरफ़ मिनरल वाटर में नहाते अमीर, दूसरी तरफ़ गड्ढे का पानी पीने को मजबूर अवाम। इस भीषण भेदभाव और इससे जुड़े या इसी तरह के हैं दस दहकते सवाल.. कुछ ही दिनों बाद हम नई सदी के नए दशक में प्रवेश कर लेंगे। गुजरते दशक ने भारत को महाशक्ति की दावेदारी दी, आने वाले समय में उसे पूरा करने की Êिाम्मेदारी है। यहां हैं वे दस चुनौतियां, जिन्हें भारत को पार करना होगा, अगर वह अपना सपना पूरा करना चाहता है, तो।

पढना जारी रखे